India से America ने बुलाए अपने नागरिक, कोरोना का कहर जारी

नागरिकों को जल्द से जल्द भारत छोड़ने की सलाह दी, उड़ाने भी बंद होगी

– NDI24 नेटवर्क
वाशिंगटन. अमेरिका (America) ने अपने नागरिकों को भारत की यात्रा न करने और जल्द से जल्द देश छोड़ने की सलाह दी है। उसने कहा कि ऐसा करना सुरक्षित है, क्योंकि भारत में कोविड-19 के मामले बढ़ने के बीच सभी तरह की चिकित्सीय देखभाल (Medical care) के संसाधन सीमित हो गए हैं। अमेरिका ने भारत पर चौथे चरण का यात्रा परामर्श जारी किया है जो विदेश विभाग द्वारा जारी किए जाने वाला सबसे अधिक स्तर का परामर्श होता है। परामर्श में अमेरिकी नागरिकों से भारत की यात्रा न करने या जल्द से जल्द वहां से निकलने के लिए कहा गया है, क्योंकि देश में मौजूदा स्वास्थ्य स्थिति के कारण ऐसा करना सुरक्षित है।

फ्रैंकफर्ट से होकर आने वाली उड़ानें उपलब्ध…

विदेश विभाग ने ट्वीट किया है कि भारत में कोविड-19 के मामलों के कारण चिकित्सीय देखभाल के संसाधन बेहद सीमित हैं। भारत छोड़ने की इच्छा रखने वाले अमेरिकी नागरिकों को अभी उपलब्ध वाणिज्यिक विकल्पों का इस्तेमाल करना चाहिए। अमेरिका के लिए रोज चलने वाली उड़ानें और पेरिस तथा फ्रैंकफर्ट से होकर आने वाली उड़ानें उपलब्ध हैं।

परिवार कल्याण मंत्रालय की वेबसाइट…

स्वास्थ्य अलर्ट जारी करते हुए नई दिल्ली में स्थित अमेरिकी दूतावास ने कहा है कि भारत में कोविड-19 के मामले बढ़ने के कारण सभी तरह की चिकित्सीय देखभाल बेहद सीमित हो रही है। उसने अमेरिकी नागरिकों से यात्रा पाबंदियों पर ताजा जानकारी के लिए भारत के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय (Ministry of Health and Family Welfare) की वेबसाइट पर जाने के लिए कहा है। भारत में कोविड-19 के नए मामले और मौत की संख्या रिकॉर्ड स्तर तक बढ़ गई है। कई स्थानों पर कोविड-19 जांच का बुनियादी ढांचा बाधित हो गया है।

एक यात्रा परामर्श जारी किया था…

इसमें कहा गया है कि अस्पतालों में कोविड-19 और गैर कोविड-19 मरीजों के लिए चिकित्सा सामान, ऑक्सीजन और बिस्तरों की कमी हो गई है। कुछ शहरों में जगह न होने के कारण अमेरिकी नागरिकों को अस्पतालों में भर्ती करने से इनकार करने की खबरें हैं। कुछ राज्यों में कर्फ्यू और अन्य पाबंदियां हैं जिससे गैर आवश्यक कारोबारों का संचालन रुक गया है और आवाजाही सीमित हो गई है। 19 अप्रैल को भी अमेरिका ने अपने नागरिकों को सलाह दी है कि वे भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण अत्यधिक फैलने के कारण वहां की यात्रा करने से बचें। तब रोग रोकथाम एवं नियंत्रण केंद्र (सीडीसी) द्वारा जारी एक यात्रा परामर्श जारी किया था।

सुरक्षित रखने के लिए सलाह…

अमेरिका, विज्ञान आधारित यात्रा स्वास्थ्य नोटिस जारी करके अपने नागरिकों को विश्वभर में स्वास्थ्य संबंधी खतरों की जानकारी देता है और उन्हें सुरक्षित रखने के लिए सलाह देता है। देश ने कोविड-19 संबंधी यात्रा परामर्श के लिए चार स्तरीय प्रणाली अपनाई है और ताजा यात्रा परामर्श में भारत को ‘स्तर-चार : कोविड-19 के सबसे उच्च स्तर’ में रखा है।

क्वारंटीन में रहना अनिवार्य…

इससे पहले ब्रिटेन ने भी भारत को उन देशों की सूची में रखा था, जिसके तहत ब्रिटिश और आइरिश नागरिकों के अलावा वहां आने वाले अन्य लोगों पर पाबंदी लगा दी गई है। साथ ही विदेश से लौटे ब्रिटिश लोगों के लिए होटल में 10 दिन तक क्वारंटीन में रहना अनिवार्य कर दिया है।

मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित…

उसी समय ब्रिटेन के प्रधानमंत्री कार्यालय डाउनिंग स्ट्रीट (Downing Street) ने भारत में कोरोना वायरस के मामलों में तेज वृद्धि के मद्देनजर अप्रैल में प्रस्तावित प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris johnson) की यात्रा रद्द करने की घोषणा की थी। इससे पहले बोरिस जॉनसन ने जनवरी में प्रस्तावित अपना भारत का दौरा रद्द किया था, जब उन्हें 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस परेड (Republic day parade) के लिए मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित किया गया था।

Share