ठेकेदारों को मनपा अधिकारियों की शह, पुराने ठेकेदार को ही मिल रहा ठेका
Share

नगरसेवकों ने महानगरपालिका पर लगाया ठेकेदारों पर उदार होने का आरोप

– NDI24 नेटवर्क
मुंबई. नगरसेवकों ने बार-बार ठेकेदारों और महानगरपालिका के कुछ अधिकारियों पर उदार होने का आरोप लगाया है। मनपा के पांच उपनगरीय अस्पतालों में रोगियों को भोजन के आपूर्ति के लिए ठेकेदार के अनुबंध की समाप्ति के बाद निविदा प्रक्रिया आयोजित की गई थी। लेकिन निविदा प्रक्रिया को पूरा करने से पहले नए ठेकेदार की नियुक्ति तक मौजूदा ठेकेदार को एक बार फिर ठेका विस्तार दिया गया है। जबकि मनपा प्रशासन ने अनुबंध की समाप्ति से पहले निविदा निकाल दी थी और एक नए ठेकेदार का चयन करना शेष था, फिर भी मौजूदा ठेकेदार को समय सीमा का विस्तार दे दिया गया। इससे पता चलता है कि बीएमसी के अधिकारी ठेकेदारों को लगातार आशीर्वाद दे रहे हैं।

3 महीने की बढ़ाई अवधि…

विदित हो कि बीएमसी के एन देसाई, बांद्रा भाभा, कुर्ला भाभा, एमटी अग्रवाल और घाटकोपर के मुक्ताबाई अस्पताल में पहले मरीजों, डॉक्टरों और कर्मचारियों को भोजन उपलब्ध कराने के लिए एक ठेकेदार नियुक्त किया था, लेकिन नए ठेकेदार के चयन के लिए निविदा प्रक्रिया लागू नहीं होने के चलते नए ठेकेदार का चयन नहीं किया जा सका। इसलिए बीएमसी ने फिर से मौजूदा ठेकेदार को तीन महीने की अवधि के लिए अनुबंध को बढ़ा दिया।

दोबारा ठेका देने का अवसर…

बीएमसी ने ठेकेदार की नियुक्ति के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी है, अपने पसंद के ठेकेदार की नियुक्ति की योजना बीएमसी अधिकारी बना रहे हैं। बीएमसी पर आरोप है कि वह अपने ठेकेदार की नियुक्ति के लिए निविदा प्रक्रिया में जानबूझ कर देरी कर रही है। निविदा में देरी के कारण अधिकारियों को अपने पसंद के ठेकेदार को दोबारा ठेका देने का अवसर मिल जाएगा।

Share