देश भर के किसानों का कर्ज होगा माफ
Share

स्‍नातक युवाओं को नौकरी देने की गारंटी, राकांपा ने जारी किया चुनावी घोषणा पत्र

– NDI24 नेटवर्क

मुंबई. लोकसभा चुनाव को लेकर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने सोमवार को अपना घोषणा पत्र जारी किया है। राकांपा ने अपने घोषणा पत्र में यह भी कहा है कि केंद्र में यूपीए सरकार बनते ही जल्‍द से जल्‍द तीन तलाख अध्यादेश को रदद कर दिया जाएगा। वहीं आतंकवाद को खत्‍म करने के लिए पाकिस्तान से बातचीत की जाएगी। वहीं देश भर के किसानों की कर्ज माफी समेत स्‍नातक युवाओं को नौकरी देने की गारंटी दी गई है। चुनावी घोषणा पत्र प्रचार समिति के प्रमुख मुददों को ध्यान में रखते हुए परोसते हुए दिलीप वलसे पाटील ने मुंबई में तो वहीं दिल्‍ली में राकांपा महासचिव डीपी त्रिपाठी की उपस्थिति में घोषणा पत्र प्रकाशित किया है। इस मौके पर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता नवाब मलिक, कोषाध्यक्ष व विधायक हेमंत टकले, राज्य महासचिव शिवाजीराव गर्जे, डॉ. समीर दलवई, प्रदेश प्रवक्ता संजय तटकरे, प्रवक्ता क्लाइड क्रिस्टो, सुधीर भोंगल और महेश चव्हाण भी उपस्थित थे।

आज स्‍नातक के पांच प्रतिशत युवाओं को भी नहीं मिलती नौकरी : राकांपा

बता दें कि अगर राकांपा सरकार बनती है तो ग्रजुएएशन के लिए लड़कियों को निःशुल्क शिक्षा के साथ ही आरटीई के तहत 18 वर्ष के बाद के के बच्चों का दायरा बढ़ाने की घोषणा की गई है। वहीं राकांपा ने यह आश्वासन दिया है कि सभी छात्रों को स्थानीय भाषा में डिजिटल डिजिटलाइजेशन प्रदान करके शिक्षा प्रदान की जाएगी। इसके अलावा राकांपा ने अपने घोषणा पत्र में घोषणा की है कि सरकार को छह साल से कम उम्र के बच्चों के लिए प्रारंभिक बाल शिक्षा (ईसीई) की नई नीति की घोषणा भी की। देश भर की आधी से अधिक की आबादी 25 वर्ष से कम उम्र की है, जिसमें केवल 2.3 प्रतिशत नागरिकों को ही स्किल डेवलपमेंट ट्रेनिंग दी जा रही है। वहीं पांच प्रतिशत से भी कम युवाओं को स्‍नातक पूरा करने के बाद नौकरी तक नहीं मिल रही है।

चुनवी घोषणाओं के पुल…

वहीं दिलीप पाटील ने कहा कि राकांपा सरकार आने के बाद शिक्षा को समान अवसर प्रदान करने का प्रयास किया जाएगा। इसके अलावा राकांपा के घोषणा पत्र में ऐलान किया गया है कि ग्रेजुएट युवाओं को सौ दिन के अंदर नौकरी की गांरटी देने का ऐलान किया गया है। एनसीपी ने देश के कृषि, आर्थिक विकास, रोजगार सृजन, सूक्ष्म-लघु और मध्यम उद्योग, कर सुधार, श्रम कानूनों में सुधार, पूंजी और वित्तीय बाजारों में सुधार, मानव संसाधन विकास, डिजिटल इंडिया नीति, स्वास्थ्य, महिला और बाल विकास, युवाओं और खेल नीति, वरिष्ठ नागरिकों की योजना, सुरक्षा नीति, राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेश नीति, व्यापार नीतियों, नागरिक विकास, ग्रामीण विकास- पंचायत राज, परिवहन, पर्यावरण, सामाजिक न्याय, अल्पसंख्यकों के लिए रियायतें, मनरेगा, गृह निर्माण समेत आय में असमानता पर ध्यान केंद्रित घोषणा पत्र राकांपा ने जारी किया है। इस लिहाज से चुनावी घोषणाओं के पुल बांधने का घोषणा पत्र जारी किया है।

Share