शराब के नशे में युवक ने की दोस्त की हत्या
Share

बच्चा चोरी के शक में लोगो ने पीटा, छानबीन में जुटीं 5 टीमें

– NDI24 नेटवर्क
महाराष्ट्र. महाराष्ट्र के धुले में बच्चा चोरी के शक में 5 लोगों की पीटकर हुई हत्या मामले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस ने अब तक पिटाई के 23 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की अलग-अलग कुल 5 टीमें इस मामले में छानबीन कर रही हैं और पिटाई के वीडियो के आधार पर बाकी आरोपियों की धर पकड़ में जुट गई हैं। बच्चा चुराने वाले गिरोह के शक में उन्मादी भीड़ ने पांच लोगों को पीट-पीटकर मार डाला। मारे गए युवक रविवार दोपहर राज्य परिवहन की बस से उतरे थे। वे इलाके से अनजान थे, इसलिए साप्ताहिक बाजार में आए एक बच्चे से पूछताछ करने लगे। इसी दौरान लोगों ने उन्हें बच्चा चोर समझकर लाठी-डंडों से हमला बोल दिया।

…फिर कमरे भी मारा

5 लोग गांव में नए दिखे जिस आधार पर गांववालों को शक हुआ कि यह बच्चे चोरी करने वाले है। फिर एक के बाद एक इकट्ठा होना शुरू हुए, इन्हें पकड़ा गया। फिर ईंट-पत्थर, लात-घुसों से जिसे जो मिला उससे मारा। भीड़ ने बीच सड़क पर मारने के बाद इन्हें एक कमरे में ले गए। फिर कमरे में बंद कर बेरहमी से पीटा। सिर पर लाठी से भी हमला किया। पांचों को कमरे में इतना मारा गया कि इसी जगह पर पांचों ने दम तोड़ दिया। यहां कुछ दिनों से अफवाह चल रही थी कि इलाके में बच्चा चोर गिरोह सक्रिय है। महाराष्ट्र के गृह राज्यमंत्री दीपक केसरकर ने लोगों से अपील की कि सोशल मीडिया पर प्रसारित अफवाहों पर ध्यान नहीं दें। वहीं इस मामले पर कांग्रेस ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने कहा कि बीजेपी की सरकार में इस तरह की घटनाएं आम सी हो गई हैं।

बेकसूरों की हत्या…

महाराष्ट्र में अफवाह के चलते बेकसूरों पर हमले लगातार हो रहे हैं। 21 जून को गोंदिया में किडनी चोरी के शक में एक भिखारी की पीटकर हत्या कर दी गई। इससे पहले 15 जून को औरंगाबाद में किराए का मकान खोज रही महिला को बच्चा चोर समझकर भीड़ ने पीटा-पीटकर अधमरा कर दिया। इसी तरह 6 जून को नांदेड़ जिले में भी काम के सिलसिले में आए चार लोगों के साथ मारपीट हुई थी।

Share