गुड़ी पड़वा के दिन घरों की बिक्री न के बराबर, कोरोना वायरस के चलते खराब रहा दिन

– NDI24 नेटवर्क
मुंबई. जहां पिछले वर्षों में देखा गया है कि गुड़ी पड़वा के दिन घरों की बिक्री में काफी उछाल रहती है। वहीं इस वर्ष गुड़ी पड़वा का दिन घरों की खरीददारी के लिए बेहद शुभ नहीं रहा। इस दिन हर साल बड़ी संख्या में घरों की बुकिंग होती है, लेकिन कोरोना वायरस के चलते गुड़ी पड़वा के दिन घरों की बिक्री न के बराबर हुई है और अब आलम यह है कि फ्लैट रेडी होने के बाद भी कई ग्राहकों ने घर का पजेशन भी नहीं लिया है।

सेक्टर की पूरी तरह से कमर टूटी : आनंद गुप्ता

हाउसिंग एंड रेरा कमेटी ऑफ बिल्डर एसोसिएशन ऑफ इंडिया (Housing & Tera Camety of Builder Association of India) के चेयर पर्सन आनंद गुप्ता (Anand Gupta) की माने तो वर्ष का शुभ दिन होने के बावजूद घरों की बिक्री न के बराबर हुई है। जबकि हर वर्ष इस दिन सबसे अधिक घरों की बिक्री होती थी, जो ग्राहक पहले घर ले चुके होते थे। वह भी इस दिन ग्राहक प्रवेश करते थे। कोरोना वायरस (Corona Virus) ने सेक्टर की पूरी तरह से कमर तोड़ दी है। वायरस और लॉकडाउन (LockDown) लगने से डर के कारण कई ग्राहकों ने घर तैयार होने के बाद भी पजेशन नहीं लिया।

बेहद ही कम घरों की बिक्री : मंजू याग्निक

नारेडको (NAREDCO) महाराष्ट्र के उपाध्यक्ष मंजू याग्निक (Manju Yagnik) के अनुसार, स्टैंप ड्यूटी (Stamp Duty) में छूट की अवधि समाप्त होने का असर भी गुड़ी पड़वा पर होने वाली सेल पर पड़ा है। छूट का लाभ लेने के लिए अधिकांश तैयार घरों की बिक्री पहले ही हो चुकी है। कोरोना वायरस के चलते बेहद ही कम नए प्रोडक्ट लॉन्च हुए हैं। नतीजतन हर साल जिस दिन सबसे अधिक घरों की बिक्री होती थी, उस दिन बेहद ही कम घरों की बुकिंग की गई है।

अधिक बिजनेस वाले दिन भी धंधा मंदा : उस्मान कुरैशी

कुरेशी एसोसिएट के प्रमुख मोहम्मद उस्मान कुरैशी का कहना है कि प्रति वर्ष ग्राहक कई दिन पहले ही साइट पर जाकर घर पसंद कर लेते थे, लेकिन गुड़ी पड़वा के शुभ दिन ही घर की बुकिंग व पजेशन लेते थे। इस कारण पूरे दिन ग्राहकों का तांता लगा रहता था। कोरोना वायरस के चलते लगातार दूसरे साल सबसे अधिक बिजनेस वाले दिन भी धंधा मंदा रहा है।

मार्च में भी 17,500 से अधिक घरों की बिक्री दर्ज…

वे आगे कहते हैं कि दरअसल जो ग्रह घर देने वाले भी थे वह लॉकडाउन और बीमारी के बढ़ते मामलों के कारण आगे नहीं आ रहे हैं। दिसंबर 2020 में 3 प्रतिशत की छूट का लाभ उठाने के लिए 1 महीने में रिकॉर्ड 19 हजार 581 घरों की बिक्री हुई थी। जनवरी 2021 में 10 हजार 412 घर और फरवरी में 10 हजार 712 घर बिके थे। वहीं मार्च में भी 17 हजार 500 से अधिक घरों की बिक्री दर्ज की गई थी।

Share