गैबीघाट मंदिर में विधायक का संवाद, पर्यटन विकास में हो रहा तेजी से कार्य

आबादी नियंत्रण का स्वागत जन-जन करे-नगर विधायक, संरक्षण तथा संवर्धन की दिशा में प्रयास

– विभाव पांडेय
मिर्जापुर. नगर के गैबीघाट मुहल्ले में स्थित श्रीहनुमान जी मंदिर में पहुंचे नगर विधायक रत्नाकर मिश्र (Ratnakar Mishra) का स्वागत करते हुए क्षेत्रीय जनता ने मांग की पौराणिक तथा धार्मिक महत्त्व के मंदिरों एवं स्थलों के संरक्षण तथा संवर्धन की दिशा में प्रयास किया जाना चाहिए ताकि पर्यटन के क्षेत्र में जिले को महत्त्वपूर्ण दर्जा प्राप्त हो सके।

बजरंगबली के श्रीचरणों में पुष्प…

रविवार, 18/7 को मंदिर पर नगर विधायक के पहुंचते भारी संख्या में लोग ‘हर-हर महादेव और बजरंगबली, मां विन्ध्यवासिनी’ की जयकार करने लगे। मंदिर के पुजारी रामानुज महराज ने प्रसाद स्वरूप बजरंगबली के श्रीचरणों में अभिमन्त्रित माला नगर विधायक को पहनाई। इस अवसर पर प्रमुख लोगों की ओर से धर्मस्थलों के विकास के बाबत पर्यटन विभाग द्वारा ध्यान दिए जाने की मांग की गई।

मंदिर के सुंदरीकरण के लिए प्रस्ताव : रत्नाकर मिश्र

इस अवसर पर नगर विधायक मिश्र ने कहा कि 400 करोड़ से विंध्यकारीडोर का विकास हो रहा है। इसके बाद पूरे जिले के महत्त्वपूर्ण स्थलों एवं प्राकृतिक स्थलों को भी विकसित करने की योजना है। जिसमें मंदिर के साथ अनेक पहाड़ी फाल भी हैं। श्री मिश्र ने मंदिर से ही पर्यटन विभाग के अधिकारियों को फोन किया कि वे गैबीघाट क्षेत्र के मंदिर के सुंदरीकरण के लिए प्रस्ताव बनाने के लिए उनके साथ बैठक करें।

मुख्यमंत्री की योजना प्रदेश की खुशहाली की है…

नगर विधायक मिश्र ने कहा कि धर्मनिष्ठ मुख्यमंत्री प्रदेश को पूर्ण विकसित करना चाहते हैं। अतः आबादी नियंत्रण के लिए वे जो प्रस्ताव ला रहे हैं, उसका व्यापक स्वागत तथा समर्थन किया जाना चाहिए। विधायक को मंदिर के उन्नयन के लिए सुझाव देने वालों में सलिल पांडेय, विन्ध्यवासिनी केसरवानी, रुपेश यादव आदि भी थे। जबकि वैदिक मंत्रों का पाठ पुरोहित पिंटू शुक्ल ने किया। सभा का संचालन पूर्व सभासद संजय यादव ने किया। विधायक का स्वागत सभासद अलंकार जायसवाल, विभाव पांडेय, विजय निषाद आदि ने भी किया।

Share