बॉम्बे हाई कोर्ट की नागपुर खंडपीठ के बाद आया यह फैसला
केंद्र सरकार के खिलाफ उतरे रामदास अठावले
Share

बॉम्बे हाई कोर्ट की नागपुर खंडपीठ के बाद आया यह  फैसला

– NDI24 नेटवर्क
मुंबई. केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्री रामदास अठावले ने बुधवार को दलित शब्द को लेकर सुप्रीम कोर्ट जाने को लेकर एक अडवाइजरी जारी की। दलित की जगह संवैधानिक शब्द अनुसूचित जाति के प्रयोग को लेकर नाराज अठावले ने कहा कि लग रहा है कि केंद्र सरकार ने महाराष्ट्र की नागपुर कोर्ट के फैसले पर ऐसा बयान जारी किया है। विदित सुझाव देते हुए उन्होंने कहा कि यह फैसला बॉम्बे हाई कोर्ट की नागपुर खंडपीठ के उस फैसले के बाद आया, जिसमें पंकज मेशराम की याचिका में सरकारी दस्तावेज और पत्रों से दलित शब्द हटाने की मांग की गई थी।

इस शब्द को मानते हैं गर्व…

उन्होंने दलितों को लेकर आगे कहा कि हमारा दलित पैंथर आंदोलन था, जिसने इस शब्द को गर्व के निशान के रूप में प्रयोग करना शुरू किया। दलित शब्द अपमानजनक कैसे हो सकता है, जबकि ये उन सभी पिछड़े, सामाजिक व आर्थिक पृष्ठभूमि से आने वाले लोगों के संदर्भ में किया जाता था।

Share