जुहू के प्राइम बीच को-ऑपरेटिव हाउसिंग सोसाइटी में एक रियल इस्टेट सौदा

– NDI24 नेटवर्क
मुंबई.
उद्धव ठाकरे की सरकार के वरिष्ठ एवं शिवसेना मंत्री के बेटे ने हाल ही में जुहू में एक फ्लैट खरीदने के लिए 33 करोड़ रुपये खर्च किए हैं। शिवसेना मंत्री सुभाष देसाई के बेटे भूषण देसाई ने जयंत सोनी से जुहू में 33 करोड़ में एक अपार्टमेंट खरीदा है। 23 अक्टूबर को शहर में जुहू के प्राइम बीच को-ऑपरेटिव हाउसिंग सोसाइटी में एक रियल इस्टेट सौदा देखा गया। सौदे में शामिल नाम बड़े हैं। वह भूषण देसाई और उनकी पत्नी हैं। देसाई सुभाष देसाई के पुत्र हैं, जो शिवसेना के वरिष्ठ नेता हैं और उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले मंत्री हैं। विक्रेता में जयंत सोनी और उनकी पत्नी हैं। सोनी का नाम पिछले साल चार्जशीट में दूसरों के साथ संपत्ति के मामले में और अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के पूर्व सहयोगी इकबाल मिर्ची से जुड़ा था। जब सोनी से संपर्क किया गया था तो उन्होंने दावा किया था कि उनका नाम अब चार्जशीट से बाहर है।

प्रति वर्ग फुट की दर 84 हजार रुपए…

इस बीच हम ईडी से सोनी के दावे की पुष्टि नहीं कर सकते हैं, क्योंकि ज्वाइंट डायरेक्टर ईडी सत्यब्रता कुमार ने सोनी के नाम पर अभी भी आरोप पत्र का हिस्सा होने या नहीं होने के बारे में स्पष्टता की मांग करने वाले संदेशों का जवाब नहीं दिया है। यह फ्लैट चौथे माले पर स्थित है और 3 हजार 928 वर्ग मीटर बड़ा है। इस फ्लैट को 33 करोड़ में बेचा गया और इस तरह प्रति वर्ग फुट की दर 84 हजार रुपए हो गई। जब भूषण देसाई से उनकी टिप्पणी के लिए संपर्क किया गया तो उन्होंने इस सौदे की पुष्टि की और कहा कि यह एक व्यापार समझौते का हिस्सा था, जब उनसे सोनी के अतीत के बारे में पूछा गया और क्या देसाई इसके बारे में जानते हैं तो उन्होंने हां कहा इस बीच देसाई ने दावा किया कि real-estate सऊदी में तकनीकी रूप से चीजें शामिल हैं, जो उनके व्यापारिक भागीदारी को चिंतित करता है और यदि वह नहीं पड़ता है और चीजें उसके पक्ष में आ जाती हैं तो वह आने वाले दिनों में फ्लैट अपने नाम करने में सफल होंगे।

पिछली सरकार में भी थे देसाई…

हालांकि दस्तावेज स्पष्ट रूप से फ्लैट देसाई के नाम बताते हैं। फ्लैट के साथ देसाई ने बिल्डिंग में 2 कार पार्किंग भी खरीदा है। स्टांप ड्यूटी की लागत 66 लाख रुपये थी। देसाई के दस्तावेजों के मुताबिक पंजीकरण के पहले उन्होंने 3 करोड़ रुपए भरा है। पंजीकरण के 20 दिनों के अंदर उन्हें 2 करोड़ रुपये भरना है और बाकी के 28 करोड़ रुपये बैंक लोन से भरेंगे। सुभाष देसाई उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले महा विकास आघाडी में शिवसेना के सबसे वरिष्ठ मंत्री हैं वह देवेंद्र फडणवीस के नेटवर्क वाली पिछली सरकार का भी हिस्सा रहे थे।

Share