पारंगत कमिश्नर तीसरी लहर पर तीसरा नेत्र खोल दिए, विंध्य परिक्षेत्र के वृहद त्रिकोण पर कार्रवाई का आश्वासन

राजकीय मेडिकल कालेज में 50 बेड का L-3 वार्ड बनाने की कार्रवाई शुरू, कचहरी के पास लंबित नेत्र अस्पताल के प्रोजेक्ट को लिया संज्ञान में

– सलिल पांडेय
मिर्जापुर.
महामारी की दूसरी लहर में ऑक्सीजन पर ही डाका डालने की कोरोनाई-हरकतों से बांह चढ़ाकर युद्ध कर चुके कमिश्नर योगेश्वर राम मिश्र (Yogeshwar Ram Mishra) यह समझ गए हैं कि यदि थोड़ा भी राहत का वक्त आए तो चुप मार कर बैठने के बजाय महामारी को मार भगाने की रणनीति बनती रहनी चाहिए, ताकि आगे कोरोना फुफकारे तो उसका फन बाकायदा कुचला जा सके।

असह्य कठिनाइयों का भी सामना…

कोरोना से बचाव में वैक्सीन की भूमिका को महत्त्व देते हुए कमिश्नर मिश्र उनसे मिलने के लिए आ रहे हर शख्स से यह पूछना नहीं भूलते है कि ‘वैक्सीन लगवाया या नहीं?’ मिश्र का मन्तव्य साफ है कि हर जागरूक व्यक्ति अपने आसपास के लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करे। कमिश्नर श्री मिश्र ने कहा कि यदि तीसरी लहर आती है तो सतर्कता से ही कोरोना की दुर्गति की जा सकेगी। राजकीय मेडिकल कालेज में 50 बेड का L-3 वार्ड बनवाने के लिए लिखापढ़ी वे कर रहे हैं। दो-तीन दिन के भीतर स्थाई प्रिंसिपल पटना से आएंगे, उनसे इस पर गहन विचार विमर्श कर प्रोजेक्ट तैयार किया जाएगा। क्योंकि गंभीर मरीजों को गैर जनपदों में रेफर करने पर समय तो बर्बाद होता ही है, साथ में असह्य कठिनाइयों का भी सामना करना पड़ता है।

मांग संबंधित अधिकारियों से मांग शुरू…

कचहरी पेट्रोल पंप के पास यहां के एक व्यापारी द्वारा पूर्व में नेत्र अस्पताल के लिए दी गई भूमि पर नेत्र चिकित्सा तथा रिसर्च संस्थान आदि स्थापित करने को संज्ञान में लेते हुए श्री मिश्र फौरन एक्शन-मोड में दिखे। उन्होंने इस बाबत पत्रावलियों आदि की मांग संबंधित अधिकारियों से शुरू कर दी।

सीटी स्कैन की रिपोर्ट में संक्रमित…

RT-PCR मशीन से निगेटिव लेकिन सीटी स्कैन में लंग्स-इफेक्टिव रिपोर्ट वाले मृतकों को कोरोना-मृतक न मानने पर अनाथ हुए बच्चों की पीड़ा के बाबत उन्होंने कहा कि इस संबन्ध में गाइडलाइन के अनुसार काम किया जाएगा। ऐसी समस्या सिर्फ इसी मण्डल की नहीं अन्यत्र भी है। उन्होंने स्वीकार किया कि टेस्ट में निगेटिव रिपोर्ट आने के बावजूद 30 प्रतिशत सीटी स्कैन की रिपोर्ट में संक्रमित आए हैं।

प्रशासन को हो सकेगी जानकारी…

कमिश्नर को सुझाव दिया गया कि एक अप्रैल से लेकर 31 मई तक प्राइवेट डायग्नोस्टिक सेंटरों में हुए सीटी स्कैन का विवरण प्रशासन ले, जिससे उनकी बीमारी तथा अधिक पैसे लेने के बाबत जानकारी प्रशासन को हो सकेगी।

अन्य मुद्दों में विंध्य वृहद त्रिकोण के तहत तारकेश्वर महादेव मंदिर पर त्रिकोण पथ का प्रारंभ तथा बदेवरा नाथ मंदिर पर समापन का बोर्ड लगवाने के संबन्ध में मिश्र ने कहा कि यह कार्य कराया जाएगा। उन्होंने स्वतः जानकारी दी कि वे कमिश्नर के साथ-साथ लेखकीय-भूमिका का भी निर्वाह करेंगे। विंध्य क्षेत्र के पौराणिक, ऐतिहासिक, सामाजिक तथा अन्य सभी विन्दुओं को दृष्टि में रखकर एक पुस्तक लिखी जाएगी। इसमें विभिन्न क्षेत्रों के 50-60 लोगों के साथ वे मीटिंग करेंगे तथा योगदान करने वाले का पुस्तक में उल्लेख भी करेंगे।

ऑक्सीजन की उपलब्धता संदर्भ…

इस संबंध में कमिश्नर ने सभाकक्ष में उपस्थित मंडल के चीफ कंजरवेटर रमेश झा (Ramesh Jha) से विचार-विमर्श करते हुए घर-घर में प्रचुर मात्रा में ऑक्सीजन देने वाले पौधों को गमले में ही लगाने के प्रचार-प्रसार पर बल दिया तथा कहा कि एक व्यक्ति 24 घण्टे में 300 लीटर ऑक्सीजन लेता है। अतः वृक्षों की रक्षा पर भी सजग रहना पड़ेगा।

Share