सरकार को पूरी पारदर्शिता के साथ वर्तमान हालात को जनता के सामने रखना चाहिए

– NDI24 नेटवर्क
मुंबई.
महाराष्ट्र प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष चंद्रकांत दादा पाटिल (Chandrakant Dada Patil) ने विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग की है। पाटिल ने कहा कि महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना संक्रमण के हालात गंभीर हैं और परिस्थिति अत्यंत विकट हो गई है। इसलिए सरकार को पूरी पारदर्शिता के साथ वर्तमान हालात को जनता के सामने रखना चाहिए। भाजपा अध्यक्ष पाटिल ने प्रदेश के संकटकालीन वर्तमान हालात के मद्देनजर अपनी इस मांग के तहत महाराष्ट्र के राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari) से निवेदन किया है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से भी उन्होंने कहा है कि महाराष्ट्र सरकार तत्काल विधानसभा (Vidhansabha) सत्र बुलाकर प्रदेश के सभी विधायकों के समक्ष प्रदेश में कोरोना संक्रमण की वस्तु स्थिति स्पष्ट करें और अपना पक्ष भी रखें। ज्ञात हो कि महाराष्ट्र में कोरोना हर दिन नए रिकॉर्ड बना रहा है। मुंबई का तो और भी बहुत बुरा हाल है। प्रदेश में हर दिन कोरोना (Covid-19) के एक्टिव केस (Active Case) की संख्या बढ़ रही है व मौतों का आंकड़ा भी लगातार बढ़ रहा है, लोग बहुत परेशान हैं।

वस्तुस्थिति की समीक्षा करने की मांग…

ऐसे में प्रदेश के हालात लगातार खराब होते जा रहे हैं। ऐसे में महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) व प्रशासन दोनों वर्तमान संकट को संभालने में बुरी तरह असफल साबित हो रहे हैं। इसीलिए राज्यपाल कोश्यारी तथा मुख्यमंत्री ठाकरे से प्रदेश भाजपा अध्यक्ष पाटिल ने विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर राज्य की वस्तुस्थिति की समीक्षा करने की मांग की है। देश में महाराष्ट्र अकेला ऐसा प्रदेश है, जहां रोज कोरोना के आंकड़े अपना ही रिकार्ड तोड़ रहे हैं एवं संक्रमण भी देश में सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में ही फैल रहा है। प्रदेश के मुंबई, ठाणे, पुणे व नागपुर आदि एक-एक शहर में जितने कोरोना के मरीज एक दिन में आ रहे हैं, उतने बड़े-बड़े प्रदेशों में भी नहीं हैं। पाटिल ने इसी खराब व खतरनाक हालत को देखते हुए विधानसभा के विशेष सत्र की मांग की है।

Share