पत्नी सीमा सिंह ने 10 दिन पहले ही प्रेस वार्ता कर जताई थी बजरंगी की हत्या की आशंका
नाबालिग उम्र से क्राइम की दुनिया में कदम रखने वाला कुख्यात डॉन की हत्या
Share

पत्नी सीमा सिंह ने 10 दिन पहले ही प्रेस वार्ता कर जताई थी बजरंगी की हत्या की आशंका

– NDI24 नेटवर्क
लखनऊ. नाबालिग उम्र से क्राइम की दुनिया में कदम रखने वाला पूर्वांचल कुख्यात डॉन की हत्या कर दी गई।  प्रेम प्रकाश उर्फ मुन्ना बजरंगी को बागपत की जेल के अंदर गोली मारी गई। आज पूर्व बसपा विधायक लोकेश दीक्षित से रंगदारी मांगने के आरोप में बागपत कोर्ट में मुन्ना बजरंगी की पेशी होनी थी। कल झांसी जेल से बागपत लाया गया था। जेल में ही गोली मारकर हत्या कर दी गई। आपको बता दें कि मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने 10 दिन पहले ही प्रेस वार्ता कर बजरंगी की हत्या की आशंका जताई थी। सीमा ने कहा था कि झांसी जेल में बंद माफिया मुन्ना बजरंगी का एनकाउंटर करने का षंड्यंत्र रचा जा रहा है। एसटीएफ में तैनात एक अधिकारी के इशारे पर ऐसा हो रहा है। इस अफसर के कहने पर ही जेल में बजरंगी को खाने में जहर देने की कोशिश तक की गई। इसके अलावा उन्होंने ढाई साल पहले विकासनगर में पुष्पजीत सिंह व गोमतीनगर में हुए तारिक हत्याकांड में शामिल शूटरों को सत्ता व पुलिस अधिकारियों का संरक्षण मिलने का आरोप भी मढ़ा था।

प्रमुख सचिव गृह ने हत्या की पुष्टि की

ADG जेल चंद्रप्रकाश ने स्वीकार किया कि जेल की सुरक्षा में बड़ी चूक हुई, सुबह 6 बजे गोली मारकर हत्या की गई, हत्या के बाद सुनील राठी ने हथियार गटर में फेंक दिया। सुनील राठी से STF के IG के गठजोड़ कर हत्या करवाने का आरोप पत्नी ने 29 जून को ही लगाया था, पत्नी ने बागपत में ही हत्या करवाने की आशंका व्यक्त करते हुए बागपत न भेजने की याचना की थी, जबकि कल रात को बागपत जेल में मुन्ना बजरंगी को लाया गया व उसी बैरक में रखा गया जहां सुनील राठी पहले से बंद था, साजिश साफ दिखती है और पुलिस के किसी बड़े अधिकारी की संलिप्तता भी।

Share