महिला ने दूसरी शादी के लिए अपनी 4 साल की मासूम को मार डाला, महाराष्ट्र के नांदेड़ न्यायपालिका के हस्तक्षेप से हुआ खुलासा…

0
189
हत्या आरोपी को छह वर्ष की सजा
Share
– NDI24 नेटवर्क
मुंबई. महाराष्ट्र के नांदेड से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आ रहा है जहां एक मां पर दूसरी शादी करने के लालच में अपनी 4 साल की बेटी का कत्ल करने का आरोप लगा है। न्यायालय के दखल के बाद आरोपी मां समेत अन्य 8 लोगों के खिलाफ कत्ल समेत विभिन्न धाराओं के तहत नांदेड के वाजीराबाद पुलिस थाने में मामला दर्ज हुआ है। नांदेड शहर के एक युवती ने शादी के बाद अपने पति को छोड़कर दूसरी शादी करने के लिए अपने 4 साल के बच्ची का खून किया था। इस मामले में उस महिला को उसके रिश्तेदारों ने मदद की थी। इसमें राजनैतिक दल के कार्यकर्ता, डॉक्टर, और अन्य लोग एवम वजीराबाद पुलिस थाने के कुछ अधिकारी भी शामिल हुए थे। इस मामले में कोर्ट में याचिका दाखिल करने पर कांग्रेस पार्टी के पूर्व विधायक एवंम भारतीय जनता पार्टी के नेता ओमप्रकाश पोकर्णा और अन्य 8 लोगों के खिलाफ वजीराबाद पुलिस थाने में मामला दायर करने के आदेश न्यायालय ने दिया है।

बेटी के खात्मे की साजिश…

नांदेड शहर के सुधा वर्मा के हैदराबाद के पवन वर्मा से फेसबुक के जरिए संबंध हुए जिसके चलते सुधा वर्मा और हैदराबाद के पवन वर्मा की 21 मई 2013 को शादी हो गई थी। शादी के बाद उन्हें वैष्णवी नाम की एक लड़की भी हो गई थी। कुछ दिन बाद  रिश्तेदारों की शादी के लिए वह नांदेड अपने मायके आई, लेकिन वह अपने पति के यहां फिर से नहीं लौटी, क्योंकि सुधा को दूसरी शादी करनी थी।इसलिए सुधा ने अपने रास्ते में कांटा बन रही बेटी को खत्म करने की साजिश रच डाली।

पति पवन वर्मा की याचिका पर कार्रवाई…

सुधा ने तबीयत खराब होने का कारण बता कर कुछ दिन बाद मासूम 4 साल की बच्ची वैष्णवी का खून कर दिया।  हिंदू संस्कृति के हिसाब से 12 साल के नीचे बच्चों को जलाया नहीं, बल्कि दफनाया जाता है, लेकिन सुधा ने सबूत मिटाने के लिए बच्ची को दफ़नाने की बजाय जला दिया। इस मामले में उसे उसके रिश्तेदार पुलिस डॉक्टर और तत्कालीन कांग्रेस के पूर्व विधायक एवं विद्यमान भाजपा के नेता ओमप्रकाश पोकर्णा ने मदद की थी। इसके बाद पवन वर्मा ने कोर्ट में याचिका दायर करते हुए कोर्ट के सामने अपनी बात रखी। मामले को गंभीर देखते हुए नांदेड कोर्ट ने सभी अपराधियों के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश दिए है। इसके बाद पुलिस ने मामले दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Share