टोक्यो 2020 ओलंपिक : मैडिटेशन ट्रैकिंग स्टार्टअप, 'ध्यान' की बड़ी सहभागिता

भारतीय ओलंपिक दल के मानसिक स्वास्थ्य को श्रेष्ठतम बनाए रखने के लिए हार्टफुलनेस इंस्टिट्यूट के साथ मिलाया हाथ

– NDI24 नेटवर्क
मुंबई. भारतीय ओलम्पिक दल के लिए पुलेला गोपीचंद के सहयोग से बनी ‘ध्यान’ नामक संस्था हार्टफुलनेस इंस्टिट्यूट के साथ सहभागिता कर रही है ताकि दल के बेहतर स्वास्थ्य और तनाव प्रबंधन के साथ अपने खेल में सर्वोत्तम प्रदर्शन के लिए ध्यान की आधुनिक तकनीकों का उपयोग कर सके। अब खिलाड़ी और ‘ध्यान’ के अन्य उपयोगकर्ता हार्टफुलनेस ध्यान कार्यक्रम के साथ ध्यान करते हुए इसकी गुणवत्ता को भी माप सकते हैं।

रिचार्ज करने में अच्छी तरह से मदद…

टोक्यो ओलम्पिक गेम्स 2020 के लिए भारतीय ओलम्पिक दल (IOA) के मेडिटेशन सहभागी ‘ध्यान’ ने हार्टफुलनेस इंस्टिट्यूट के साथ अपनी सहभागिता की घोषणा की है| हार्टफुलनेस इंस्टिट्यूट ने ‘ध्यान’ के साथ मिलकर बड़ी गहराई से इस विषय पर कार्य किया है कि हार्टफुलनेस ध्यान के सहज एवं सरल अभ्यास, खिलाड़ी दल को अपने फोकस को पैना बनाये रखने एवं ऊर्जा स्तर को रिचार्ज करने में अच्छी तरह से मदद करें|

हार्टफुलनेस की ख़ास तकनीक…

हार्टफुलनेस इंस्टिट्यूट ने भारतीय प्रतिनिधि दल की आवश्यकतानुसार ध्यान अभ्यास भी तैयार किये हैं, जो अंग्रेजी के अतिरिक्त खिलाड़ियों की अपनी क्षेत्रीय भाषाओं हिंदी, तमिल, तेलुगु में भी उपलब्ध हैं। ये अभ्यास खिलाड़ियों को पूरी तरह से तनावमुक्त बनाने और अपने हृदय पर केंद्रित होकर डूब जाने की हार्टफुलनेस की ख़ास तकनीक पर आधारित हैं।

मेडिटेशन की गुणवत्ता का सटीक आकलन…

‘ध्यान’ का कुशलता-वलय, जो ध्यान की गुणवत्ता पर नज़र रखता है अपने ध्यानाभ्यासों में आज से ही हार्टफुलनेस ध्यान के सारे पहलुओं जैसे रिलेक्सेशन, ध्यान, सफाई, एवं आंतरिक जुड़ाव को भी शामिल करेगा। ‘ध्यान’ की टीम ने हार्टफुलनेस इंस्टिट्यूट के साथ मिलकर उनकी विशिष्ट तकनीकों द्वारा यह सुनिश्चित किया है कि उपयोगकर्ताओं के मेडिटेशन की गुणवत्ता का सटीक आकलन हो सके।

विभिन्न भारतीय भाषाओं में भी उपलब्ध…

भारतीय ओलंपिक दल के महासचिव राजीव मेहता कहते हैं कि महामारी के जारी प्रकोप के परिप्रेक्ष्य में विभिन्न तकनीकों को अधिक से अधिक अपनाते हुए हम प्रयासरत हैं कि भारतीय ओलम्पिक दल पर्याप्त रूप से स्वप्रेरित तथा सुरक्षित महसूस करते हुए टोक्यो 2020 ओलम्पिक के खेलों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सके। ‘ध्यान’ के साथ हमारी सहभागिता इसी दिशा में एक कदम है। मैं यह जानकर बहुत प्रसन्न हूं कि ‘ध्यान’ ने ‘हार्टफुलनेस संस्था’ के साथ मार्गदर्शी ध्यान-सत्रों की योजना बनाई है साथ ही ये ध्यान-प्रयोग विभिन्न भारतीय भाषाओं में भी उपलब्ध हैं। आधुनिक सूचना तकनीक माध्यमों का उपयोग करते हुए हमारे खिलाड़ियों का ध्यान प्रयोगों का यह अनुभव उनके भावनात्मक स्तर को मज़बूत बनाते हुए उनकी तैयारी को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण योगदान करेगा।

परीक्षा की घड़ियों में बेहतर ढंग से फोकस बनाए रखेगा : पुलेला गोपीचंद

‘ध्यान’ के निदेशक और भारतीय बैडमिंटन दल के मुख्य कोच पुलेला गोपीचंद ने कहा कि आजकल खिलाड़ी जहां हैं, वहां परिस्थितियां आसान नहीं हैं। सर्वोच्च स्तर के इन खेलों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का दबाव शायद अपने आप में कम नहीं था कि महामारी के कारण ओलंपिक खेलगांव में लागू किये गए और सतत परिवर्तित हो रहे प्रतिबंध भी उनमें शामिल हो गए हैं, जो निश्चित रूप से खिलाड़ियों की मनोदशा को भी एक सीमा तक प्रभावित करेंगे। हमें विश्वास है कि ध्यान के इन आवश्यकता अनुरूप तैयार किये गए सत्र एवं डाटा तकनीक आधारित अभ्यास के सहयोग से, हमारा प्रतिनिधिमंडल अपने मानसिक स्वास्थ्य पर अपनी परीक्षा की घड़ियों में बेहतर ढंग से फोकस बनाए रखेगा।

दक्षता प्राप्त करने में बहुत सशक्त मदद पाई है : तान्या खन्ना

भारतीय स्क्वैश खिलाडी तथा हार्टफुलनेस अभ्यासी तान्या खन्ना ने कहा कि प्रतिस्पर्धा के शीर्ष पर होने के लिए खिलाड़ी केवल शारीरिक स्वास्थ्य के भरोसे नहीं रहता है। प्रतियोगिता से जुड़े उसके विचार और भावनाओं का भी उस पर प्रभाव पड़ता है। हार्टफुलनेस ध्यान अभ्यास शुरू करने के पहले मैं नर्वस होने या कुछ अंक खो देने से, मांसपेशियों में उत्पन्न हो रही जकड़न को नहीं समझ पाती थी। अब मैं इतनी जागरूक हूँ कि उन्हें दुरुस्त कर लेने में सक्षम हूं। हार्टफुलनेस अभ्यास से मैंने अपने भीतर स्थिर होने, तनावमुक्त होने तथा अपने जीवन और प्रतिस्पर्धाओं में दक्षता प्राप्त करने में बहुत सशक्त मदद पाई है।

सुखद संयोग से हमें पूर्ण विश्वास है : भैरव शंकर

‘ध्यान’ के प्रबंध निदेशक भैरव शंकर ने कहा कि हमें भारत की ध्यान जैसी अति प्राचीन समृद्ध परम्पराओं और उन्हें जैव-चिकित्सकीय तकनीकों के माध्यम से और भी मजबूत किये जाने पर गर्व है। हार्टफुलनेस संस्थान के द्वारा विशेषज्ञता से सामने रखे गए ध्यान एवं समग्र कल्याण के इन अभ्यासों और ‘ध्यान’ की जैविक टिप्पणी (Biofeedback) कर पाने की सक्षमता, जो उपयोगकर्ता को उनकी ध्यानात्मक स्थिति के बारे में तुरंत फीडबैक देती है, इसके सुखद संयोग से हमें पूर्ण विश्वास है कि भारतीय प्रतिनिधिमंडल अब अपनी योग्यताओं का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकेगा।

पुनरुज्जीवित करने में भी प्रभाव…

लम्बे समय से हार्टफुलनेस की अभ्यासी रही फिल्म अभिनेत्री तान्या मानिकतला ने बताया कि हार्टफुलनेस ध्यान और तनावमुक्ति के कार्यक्रमों से मेरे विचारों और भावनाओं को नियंत्रित रखने में एक बड़ा बदलाव आया है, जिससे मेरा प्रदर्शन, विशेष कर मेरे व्यवसाय के उतार-चढ़ावों को सह पाने की मेरी क्षमता, में काफी सुधार हुआ है। मैंने हाल के वर्षों में इसका प्रत्यक्ष प्रभाव देखा है और मैं आश्वस्त हूं कि हमारे ओलम्पिक खेलों के प्रतिनिधिमंडल को पुनरुज्जीवित (rejuvenate) करने में भी वही प्रभाव दिखेगा।

तनावमुक्त होने में उपयोगी…

हार्टफुलनेस संस्थान के ‘वर्तमान पर फोकस करें (फोकस ऑन नाउ)’ नामक वेलनेस सत्र, मूलत: भारतीय प्रतिनिधिमंडल के टोक्यो प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए तैयार किये गए हैं। ये ध्यान के अन्य उपयोगकर्ताओं के लिए उन्हें वर्तमान में उपस्थित होने और तनावमुक्त होने में उपयोगी हो सकते हैं।

Share