रियल एस्टेट रेगुलेटरी एक्ट में भारत के अचल संपत्ति उद्योग का पूरा खाका

– NDI24 नेटवर्क
मुंबई. लोग हमेश सोचते हैं कि रियल एस्टेट रेगुलेटरी एक्ट (RERA) ने भारत के अचल संपत्ति उद्योग के लिए क्या किया है? इसके लिए एक शब्द का उत्तर होगा : ‘पारदर्शिता’। हां, रेरा पारदर्शिता लेकर आया है, जो कि अचल संपत्ति उद्योग की आत्मा है, लेकिन कुछ कारणवश यह गायब था या कहीं गहरे में छिपा हुआ था। रेरा ने इसे सामने लाया।

संबंधित खबरें…

शिकायतों की वरिष्ठता तय करने के लिए नया सर्कुलर, MahaRERA की कवायद…

Developers को अब MahaRERA के इस नियम का करना होगा पालन, जारी किया गया अहम अपडेट

विकासकर्ता के लिए अनिवार्य…

यह अनिवार्य है कि एक विकासकर्ता (Developers) राज्य में महारेरा (MahaRERA) के साथ अपनी परियोजना को पंजीकृत करे। वह विज्ञापन, विपणन, बुकिंग, बिक्री या बिक्री के लिए पेशकश या किसी भी तरह से किसी भी भूखंड या भवन को खरीदने के लिए व्यक्तियों को आमंत्रित करता है, जैसा कि लगभग हर परियोजना में होते आ रहा है। अगर कोई ऐसा करता है तो घर खरीदारों के हितों की रक्षा के लिए रेरा सामने आता है।

संबंधित खबरें…

Mhada के खिलाफ बिल्डर गया MahaRERA, भूखंड के संबंध में राहत की मांग

MahaRERA का नया फरमान, बिल्डर और घर खरीदने वाले के बीच Section 32 (g)

राज्य के कई क्षेत्रों की परियोजनाएं शामिल…

इन विकासकर्ताओं को प्रदान किया गया पंजीकरण सीमित समय के लिए होता है, जिसे रेरा के नियमों के अनुसार एक निश्चित अवधि के लिए बढ़ाया भी जाता है।
महारेरा उन परियोजनाओं की सूची लेकर आया है, जिनका पंजीकरण समाप्त हो गया है। सूची में ठाणे, मुंबई, नवी मुंबई, पुणे, नागपुर, नासिक और राज्य के अन्य क्षेत्रों की कई परियोजनाएं शामिल हैं।

संबंधित खबरें…

पानी को लेकर बिल्डर और खरीददार में फंसा पेंच, Rera की जांच में कनेक्शन ही नहीं…

अजोय मेहता बने MahaRERA के अध्यक्ष, तीन सदस्यीय समिति ने लगाई मोहर

पंजीकरण के बाद बिक्री की पेशकश नहीं…

एक बार, परियोजनाओं के लिए महारेरा पंजीकरण की वैधता समाप्त हो जाती है तो प्रमोटर इन परियोजनाओं में किसी भी तरह से किसी भी भूखंड, अपार्टमेंट, या भवन, जैसा भी मामला हो, खरीदने के लिए विज्ञापन, बाजार, पुस्तक, बिक्री या बिक्री की पेशकश नहीं कर सकता है।

संबंधित खबरें…

सात खरीददारों ने बिल्डर निर्मल लाइफ़स्टाइल के खिलाफ किया MahaRERA से संपर्क, अब देना होगा इंटरेस्ट…

डेवलपर और शिकायतकर्ता के बीच MahaRERA ने निकाला यह निदान, Sakla Enterprises के खिलाफ मामला

महारेरा के तहत 103 परियोजनाएं…

उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, महारेरा के तहत 103 ऐसी परियोजनाएं हैं, जिनका पंजीकरण समाप्त हो गया है और 541 परियोजनाएं 2018 से हैं, जहां विकासकर्ता न तो बेच सकता है और न ही विज्ञापन दे सकता है।

संबंधित खबरें…

MahaRERA में 27.755 परियोजनाओं का पंजीकरण, पूरी हुईं 6.447 परियोजनाएं

55 परियोजनाओं में बदलेंगे प्रमोटर, RERA के तहत आवंटियों को तिहाई सहमति

पूरी सूची यहां देखी जा सकती है…

Maharashtra RERA Rules & Regulation

जल्द ही परियोजनाओं का एक और समूह…

एक सूत्र ने कहा कि जल्द ही महारेरा, परियोजनाओं का एक और समूह लेकर आएगा जहां विकासकर्ता अपनी परियोजनाएं, बेच या विज्ञापित नहीं कर सकते हैं। यह सूची 2019 और उसके बाद के वर्षों की होगी।

Share