हम (शिवसेना+भाजपा) शायद फिर साथ आएं, बजट सत्र में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का बड़ा बयान

राम मंदिर निर्माण व बाबरी मस्जिद मसले पर बयान, अभिभाषण पर जवाब

– NDI24 नेटवर्क
मुंबई.
महाराष्ट्र विधान भवन में आयोजित बजट सत्र के दौरान राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अभिभाषण पर जवाब देते हुए शुक्रवार को कांजुरमार्ग मेट्रो कारशेड मसले पर बोलते वक्त कहा की हम (शिवसेना+भाजपा) पहले एक साथ थे और भविष्य में शायद हम सभी फिर से एक साथ आएं!

कांग्रेस विधायकों की आपत्ति पर बोले ठाकरे…

वहीं कांग्रेस विधायकों की ओर से आपत्ति व्यक्त किए जाने पर दूसरे दिन कहा कि राम मंदिर निर्माण व बाबरी मस्जिद मसले पर (पिता बाला साहब ठाकरे) के बयान का उल्लेख बजट सत्र के भाषण में किया।

अपने अयोध्या दौरे से पहले ही बोला था…

वहीं मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अपनी बुलंद आवाज में आगे कहा कि मुझे जो बोलना है, वह मैं बोलूंगा। चाहे किसी को बुरा लगे या अच्छा। मैंने अपने अयोध्या दौरे के वक्त ही कहा था कि मैं भाजपा से दूर गया हूं हिंदुत्व से नहीं।

…तो होगा सत्ता में परिवर्तन!

बहरहाल, राजनीतिक विशेषज्ञों की मानें तो मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के ये दो बयान साफ संकेत देते हैं कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) के शीर्ष नेतृत्व ने जिस भी दिन महाराष्ट्र में शिवसेना को अपना बड़ा भाई मान लिया, मानो राज्य में सत्ता परिवर्तन होना बिल्कुल अटल है!

Share